वौइस् ऑफ़ स्लम के सदस्यों ने आज मासिक धर्म के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक झुग्गी क्षेत्र का दौरा किया।

हमने महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन और
इनके उपयोग और महत्व के बारे में बताया।
हमने 12-13 साल की लड़कियों को बताया
कि यह एक बीमारी नहीं है बल्कि यह
जैविक प्रक्रिया है।

लड़कियों ने हमें बताया कि जब उनकी अवधि
होती है तो उनके चारोंओर हर कोई बहुत
अजीब व्यवहार करता है।

विवाहित महिलाओं में से एक ने हमें बताया
कि उसकी मां उसे खाना पकाने से रोकती है।
हमने उन्हें मासिक धर्म चक्र के पीछे
वैज्ञानिक कारण समझाया और उन्हें स्वच्छता
सावधानियोंके बारे में भी सिखाया।

हमने सभी लड़कियों को पैड भी वितरित
किये और अपनी बैठक पूरी की।

सुनीता(16 वर्षीय) द्वारा